Hindi Dard Shayari : Roj Tha Uska Naam Mere Afsane

Hindi Dard Shayari : Roj Tha Uska Naam Mere Afsane

Dard Shayari in Hindi
Dard Shayari in Hindi
Roj Tha Uska Naam Mere Afsane Mein,
Thi Uski Tasveer Mere Dil Ke Aashiyane Mein,
Mangi Thi Khuda Se Dua Jiski Khushi Ke Liye,
Use Khushi Bhi Milti Thi To Mujhe Rulane Mein.

दर्द से दोस्ती हो गई यारों,
जिंदगी बे दर्द हो गई यारों,
क्या हुआ जो जल गया आशियाना हमारा,
दूर तक रोशनी तो हो गई यारो।

डरते है आग से कही जल न जाये,
डरते है ख्वाब से कहीं टूट न जाये,
लेकिन सबसे ज़्यादा डरते है आपसे,
कहीं आप हमे भूल न जाये।

दर्द ही सही मेरे इश्क का इनाम तो आया,
खाली ही सही हाथों में जाम तो आया,
मैं हूँ बेवफ़ा सबको बताया उसने,
यूँ ही सही, उसके लबों पे मेरा नाम तो आया।

Hamare Zakhmo Ki Wajah Bhi Woh Hain,
Hamare Zakhamo Ki Dava Bhi Woh Hain,
Woh Namak Zakhamo Pe Lagaye Bhi To Kya Hua,
Mohabbat Karne Ki Wajah Bhi To Woh Hain.

No comments

Theme images by merrymoonmary. Powered by Blogger.