Love Shayari : Kal Tera Jikra Chhid Gaya Ghar Me

Love Shayari :  Kal Tera Jikra Chhid Gaya Ghar Me

Love Shayari in Hindi
Love Shayari
मैने कहा वो अजनबी है, दिल  ♥ ने कहा वो दिल्लगी है,
मैने कहा वो सपना है, दिल ♥ ने कहा फिर भी वो अपना है,
मैने कहा वो सिर्फ इंतजार है, दिल ♥ ने कहा यही तो प्यार है।

सफर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो,
नजर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो,
हजारों फूल देखे हैं इस गुलशन में मगर,
खुशबू वहीं तक है जहाँ तक तुम हो।

सुकून अपने दिल का मैने खो दिया,
खुद को तन्हाई के समंदर मे डुबो दिया,
जो थी मेरे कभी मुस्कराने की वजह,
आज उसकी कमी ने मेरी पॅल्को को भिगो दिया।

छू गया जब कभी ख्याल तेरा,
दिल मेरा देर तक धड़कता रहा,
कल तेरा ज़िक्र छिड़ गया घर में,
और घर देर तक महकता रहा।

No comments

Theme images by merrymoonmary. Powered by Blogger.