तेरी बाहों से लिपटने को जी चाहता है

Teri Banho Se Liptane Ko Ji Chahta Hain

Hindi Shayari
Hindi Shayari
तुझे पलकों पे बिठाने को जी चाहता है
तेरी बाहों से लिपटने को जी चाहता है,
खूबसूरती की इंतेहा हैं तू,
तुझे ज़िन्दगी में बसाने को जी चाहता है.

जब रात में किसी की याद सताये,
हवा जब आपके बालों को सहलाये,
कर लेना आँखें बंद और सो जाना,
और हम आपके ख्वाबों में आ जाये। 😘

Taraste The Jo Hamse Milne Ko Kabhi,
Na Jane Kyu Aaj Mere Saye Se Bhi Wo Katrate Hain,
Ham Bhi Wahi Hain, Dil Bhi Wahi Hain,
Na Jane Kyu Log Badal Jate Hain.

No comments

Theme images by merrymoonmary. Powered by Blogger.